22.6 C
New York
Sunday, Jun 16, 2024
Star Media News
Breaking News
Breaking NewsElection Newsगुजरातप्रदेश

26- वलसाड लोकसभा सीट पर लहराया बीजेपी का भगवा, धवल पटेल की 210704 वोटों से हुई शानदार जीत

बीजेपी के धवल पटेल को 764226 वोट मिले जबकि कांग्रेस के अनंत पटेल को 553522 वोट मिले,
श्यामजी मिश्रा 
 वलसाड जिला। लोकसभा आम चुनाव-2024 के अंतर्गत 26- वलसाड लोकसभा सीट पर 4 जून को वलसाड के सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में वोटों की गिनती हुई, जिसमें बीजेपी उम्मीदवार धवलभाई पटेल को 764226 वोट मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार अनंतभाई पटेल को 553522 वोट मिले और भाजपा के धवलभाई पटेल ने 210704 वोटों की भारी अंतर से जीत हासिल की।
पुलिस की चुस्त बंदोबस्त के बीच पहले दौर की गिनती में बीजेपी के धवल पटेल को 44,286 वोट मिले, जबकि कांग्रेस के अनंत पटेल को 20,466 वोट मिले। दूसरे राउंड में धवल पटेल को 39053 वोट मिले जबकि अनंत पटेल को 26860 वोट मिले और धवल पटेल 12193 वोटों से आगे रहे। पहले और दूसरे राउंड में दोनों प्रत्याशियों के बीच 36013 वोटों का अंतर देखने को मिला, जबकि तीसरे राउंड में कांग्रेस के अनंत पटेल को 25162 वोट मिले, जबकि बीजेपी के धवल पटेल 13503 वोटों से आगे रहे। तीसरे राउंड तक दोनों के बीच 49516 वोटों का अंतर था। चौथे राउंड में अनंत पटेल को 27,523 वोट मिले जबकि धवल पटेल को 4,022 वोट मिले और वह चौथे राउंड में 12,499 वोटों के साथ आगे चल रहे थे। पहले से चौथे राउंड तक दोनों के बीच कुल 62015 वोटों का अंतर देखने को मिला। 5वें से 19वें राउंड तक बीजेपी प्रत्याशी लगातार आगे रहे, लेकिन 20वें राउंड में कांग्रेस के अनंत पटेल को बीजेपी के धवल पटेल से ज्यादा वोट मिले। जिसमें धवल पटेल को 15129 वोट मिले जबकि अनंत पटेल को 17285 वोट मिले। हालांकि, कुल 21 राउंड तक बीजेपी को 742757 वोट मिले, जबकि कांग्रेस को 527733 वोट मिले और बीजेपी के धवल पटेल को 215024 वोटों से बढ़त मिली। 22वें राउंड में धरमपुर, वलसाड, पारडी और उमरगाम की वोटों की गिनती पूरी होने के बाद डांग, वांसदा और कपराडा सीटों की वोटों की गिनती जारी रही। इस राउंड में भी कांग्रेस को ज्यादा वोट मिले। बीजेपी के धवल पटेल को 8470 वोट मिले जबकि कांग्रेस के अनंत पटेल को 10468 वोट मिले। डांग और वांसदा के 23वें राउंड में भी कांग्रेस के अनंत पटेल को बीजेपी के धवल पटेल से 808 वोट ज्यादा मिले। अनंत पटेल को 8218 और धवल पटेल को 7410 वोट मिले। आखिरकार 24वें राउंड में डांग सीट पर वोटों की गिनती जारी हुई तो बीजेपी को 1410 वोट ज्यादा मिले। कांग्रेस के अनंत पटेल को 888 और बीजेपी के धवल पटेल को 2298 वोट मिले। इस तरह कुल 24 राउंड में 26- वलसाड लोकसभा सीट की गिनती पूरी हुई, कांग्रेस के अनंत पटेल को 546419 वोट मिले, जबकि बीजेपी के धवल पटेल को 760935 वोट मिले, दोनों के बीच 213628 वोटों का अंतर देखा गया। लेकिन पोस्टल बैलेट के 10577 वोटों की गिनती के बाद बीजेपी के विजयी उम्मीदवार की बढ़त कम हो गई। क्योंकि, पोस्टल बैलेट में कांग्रेस को बीजेपी से ज्यादा वोट मिले थे। अनंत पटेल को 6215 जबकि धवल पटेल को 3291 पोस्टल वोट मिले। ऐसे में बीजेपी उम्मीदवार की जीत का अंतर कम हो गया और अंत में धवल पटेल 210704 वोटों से जीत गए। कुल 1 से 24 राउंड की वोटों की गिनती के दौरान जैसे-जैसे डांग, वांसदा, धरमपुर और कपराडा सीटों के वोटों की गिनती हुई, कांग्रेस को ज्यादा वोट मिल रहे थे, जबकि वलसाड, पारडी और उमरगाम सीटों पर बीजेपी को बड़ी बढ़त मिल रही थी। वलसाड जिला निर्वाचन अधिकारी व जिला कलेक्टर आयुष ओक ने भाजपा के धवल पटेल को विजयी प्रत्याशी घोषित कर प्रमाण पत्र देकर बधाई दी। गौरतलब है कि राजकोट टीआरपी मॉल में हुए दुखद अग्निकांड के बाद बीजेपी ने संवेदनशीलता दिखाते हुए विजय जुलूस को स्थगित कर दिया था।
पिछले चुनाव में नोटा में 19307 वोट पड़े थे, जबकि 2024 में नोटा में 18373 वोट पड़े,
सबसे बड़े लोकतंत्र वाले देश में भारत निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को कोई भी उम्मीदवार पसंद न आने पर ईवीएम में नोटा का विकल्प भी दिया है। 2019 के लोकसभा चुनाव में 26-वलसाड लोकसभा सीट पर कुल 1261364 मतदाताओं ने मतदान किया था। जिनमें से 19307 मतदाताओं ने नोटा का विकल्प चुना था। जबकि 2024 के चुनाव में कुल 1362214 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिनमें से 18373 मतदाताओं ने नोटा का विकल्प चुना। आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले चुनाव की तुलना में नोटा के प्रति मतदाताओं का रुझान कम हुआ है। 2019 में वांसदा सीट पर सबसे ज्यादा 3906 नोटा के वोट पड़े थे जबकि पारडी में सबसे कम 1409 वोट नोटा के पड़े थे। वहीं साल 2024 में वांसदा सीट पर सबसे ज्यादा 3555 वोट नोटा के और वलसाड सीट पर सबसे कम 1659 वोट नोटा को पड़े थे।
वर्ष 2019 में 987 जबकि 2024 में 803 अस्वीकृत वोट दर्ज किये गये, 
वर्ष 2019 में पिछले लोकसभा चुनाव में वलसाड लोकसभा सीट पर कुल 1261364 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था, जिनमें से 4526 मतदाताओं ने पोस्टल बैलेट का उपयोग किया था, जिनमें से 987 वोट गिनती के दौरान रद्द कर दिए गए और 1241070 वैध वोट दर्ज किए गए थे। जबकि 2024 चुनाव के लिए वोटों की गिनती की गई तो कुल 1362214 मतदाताओं में से 10577 मतदाताओं ने डाक मतपत्र से मतदान किया। जिनमें से 803 वोट खारिज कर दिए गए और कुल 1361411 वोट वैध वोट के रूप में गिने गए। साल 2019 और 2024 की तुलना करें तो रद्द वोट 184 कम हो गए।
 पिछले चुनाव की तरह इस बार भी कांग्रेस को बीजेपी से ज्यादा पोस्टल बैलेट वोट मिले, 
पिछले चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार डॉ.के.सी.पटेल जीते थे लेकिन जहां तक ​​पोस्टल बैलेट वोट की बात है तो उन्हें अपने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार जीतूभाई चौधरी से 335 वोट कम मिले थे। आंकड़ों पर नजर डालें तो कुल 4526 पोस्टल वोटों में से डाॅ. केसी पटेल को 1538 वोट मिले जबकि जीतू चौधरी को 1873 वोट मिले थे। 2024 के चुनाव में भी पिछले चुनाव की पुनरावृत्ति देखने को मिली। कांग्रेस उम्मीदवार अनंत पटेल को विजयी बीजेपी उम्मीदवार धवल पटेल से ज्यादा पोस्टल वोट मिले। कुल 10577 पोस्टल वोटों में से बीजेपी को 3291 और कांग्रेस उम्मीदवार अनंत पटेल को 6215 पोस्टल वोट मिले।
आदिवासी नेता अनंत पटेल को वांसदा, धरमपुर और कपराडा सीटों पर विजेता धवल पटेल से अधिक वोट मिले,
26- वलसाड लोकसभा सीट में शामिल सात विधानसभा सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस प्रत्याशियों को मिले वोटों का विश्लेषण करें तो आदिवासी नेता की छवि वाले कांग्रेस प्रत्याशी अनंत पटेल को वांसदा, धरमपुर, व कपराड़ा सीट पर विजयी बीजेपी प्रत्याशी धवल पटेल से ज्यादा वोट मिले। वासंदा में अनंत पटेल को 124286 जबकि धवल पटेल को 92508 वोट, धरमपुर में अनंत पटेल को 97957 जबकि धवल पटेल को 93932 वोट और कपराडा में अनंत पटेल को 115790 जबकि धवल पटेल को 92564 वोट मिले। जबकि बीजेपी के धवल पटेल को डांग, वलसाड, पारडी और उमरगाम सीटों पर ज्यादा वोट मिले।
2019 की तुलना में कांग्रेस के वोट बढ़े, बीजेपी के वोट घटे,
2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी डाॅ. केसी पटेल ने कांग्रेस उम्मीदवार जीतूभाई चौधरी को 353797 वोटों से हराया था। कुल 1241070 वोटों में से डॉ केसी पटेल को 771980 वोट और जीतूभाई चौधरी को 418183 वोट मिले थे। जबकि 2024 के चुनाव में भी बीजेपी उम्मीदवार की जीत हुई है लेकिन उन्हें अपनी पार्टी के पिछले चुनाव के उम्मीदवार डॉ.के.सी.पटेल जितनी बढ़त नहीं मिल पाई। इसलिए बीजेपी के वोटों की संख्या कम हो हुई है है। कांग्रेस उम्मीदवार अनंत पटेल हार गए लेकिन कांग्रेस का वोट प्रतिशत बढ़ गया। 2019 के पिछले चुनाव में कांग्रेस के जीतूभाई चौधरी को 418183 वोट मिले थे, जबकि 2024 के चुनाव में कांग्रेस के अनंत पटेल को 553522 वोट मिले। इस प्रकार, पिछले 2019 के चुनाव की तुलना में 2024 के चुनाव में कांग्रेस को 135339 वोट अधिक मिले हैं। जबकि बीजेपी को 7754 वोट कम मिले हैं।

Related posts

गैस कनेक्शन के निरीक्षण के नाम पर खुली लूट,  मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी गई शिकायत

starmedia news

जौनपुर के शूटर ने लखनऊ में कुख्यात बदमाश संजीव जीवा को किया गोलियां से छलनी

starmedia news

शिक्षक विशेष ट्रेन 2 मई को होगी रवाना, शिक्षक विधायक कपिल पाटील का सफल प्रयास

starmedia news

Leave a Comment