10.8 C
New York
Wednesday, Apr 17, 2024
Star Media News
Breaking News
Election News

बीजेपी के उम्मीदवारों की संपत्तियों में कई गुना इजाफा, आप ने उठाए गंभीर सवाल। 

कृष्ण कुमार मिश्र, वलसाड। बीजेपी ने वलसाड जिले की पांचों विधानसभाओं के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की है, जिनमें से अब तक चार उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। उनके हलफनामे से मिली जानकारी के मुताबिक कपराडा विधायक और राज्य के जल आपूर्ति मंत्री जीतूभाई चौधरी की आय में पिछले पांच साल में 245 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वर्ष 2017-2018 में यह 749875 था। वर्तमान में उनकी आय 2594330 हो गई है। जबकि पारडी विधायक और राज्य के वित्त मंत्री, पेट्रोलियम मंत्री कनुभाई देसाई की आय में 200 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. वर्ष 2017-2018 में उनकी कुल आय 8293453 थी। जिनकी वर्तमान आय 2021-22 में 25092063 है। यानी वित्त मंत्री की तुलना में जल आपूर्ति मंत्री की आय में 45 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. जबकि पूर्व मंत्री और उमरगाम के विधायक की आय में महज 2 से 3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. वर्ष 2018-19 में उनकी कुल आय 749875 थी। फिलहाल 2021-22 में यह 1270840 थी। 2020-2021 में आमदनी 2395900 तक पहुंच गई। जबकि वलसाड के बीजेपी विधायक भरतभाई पटेल की आय में 72 फीसदी का इजाफा हुआ है।

शपथ पत्र में प्रस्तुत जानकारी के अनुसार पारडी विधायक एवं वित्त मंत्री कनुभाई देसाई की वर्ष 2017-2018 में कुल आय 8293453 थी. जो 2018-2019 में 10152544, 2019-20 में 12184410, 2020-2021 में 11992680 थी। जबकि अब 2021-22 में यह 25092063 हो गई है। उनके पास 125000 कैश है। चल संपत्ति 82938015, अचल संपत्ति 2180000 शामिल है। उनके खिलाफ एक भी आपराधिक मामला नहीं है शिक्षा के तौर पर बीकॉम एलएलबी स्नातक है।

कपराडा सीट पर भाजपा प्रत्याशी एवं जलापूर्ति मंत्री जीतूभाई चौधरी द्वारा दिये गये हलफनामे में दी गयी जानकारी के अनुसार वर्ष 2018-19 में कुल आय 749875 थी. यह 2019-20 में 1091662, 2020-2021 में 16064480, 2021-22 में 312870 था। वर्तमान में उनकी आय 2022-23 में 2594330 पहुंच गई है। नकद 70000 है। चल संपत्ति 8535169.77, अचल संपत्ति 9350800 शामिल है। एक मामला जौनपुर यूपी कोर्ट में शामिल है। शिक्षा के मामले में 9वीं पास है। व्यवसाय कृषि और व्यापार है।

उमरगाम विधायक रमनलाल पाटकर की वर्ष 2017-18 में कुल आय 1248869 थी। यह 2018-2019 में 1031886, 2019-20 में 2014403, 2020-21 में 2395900 थी। जबकि 2021-22 में यह 1270840 थी। आमदनी कम हो गई। नगद 250000 है। चल संपत्ति में 1677061.79, अचल संपत्ति में 18000000 शामिल हैं। 15000000 भी स्व-अर्जित संपत्ति में शामिल है। कोई पुलिस या लंबित मामला नहीं है। व्यवसाय कृषि और व्यापार है।

वलसाड विधायक भरतभाई पटेल की आय 839837 दर्शायी गयी थी. फिर यह वर्ष 2018-19 में 1271404, वर्ष 2019-20 में 1742320, 2020-2021 में 980670 और 2021-22 में 1443940 हो गया। हाथ पर नकद 50000 है। जबकि चल संपत्ति 7892912.94, अचल संपत्ति स्वयं अर्जित अचल संपत्ति खरीद मूल्य 96000,00, स्वयं अर्जित संपत्ति में 175000 शामिल हैं।

आम आदमी पार्टी , वलसाड ज़िला सायुंक्त सचिव (लीगल सेल) एडवोकेट शशांक मिश्र ने सत्तारूढ़ दल बीजेपी के हेवी वेट मंत्री रहे प्रत्याशियो की आमदनी में हुए अभूतपूर्व इजाफे को लेकर कई गंभीर सवाल उठाए है। इशारा किया है ,ये तो केवल निजी संपत्ति है , इसके अलावा भी कई बेनामी संपत्ति हो सकती हैं , जिसका भांडा फोड़ आप पार्टी करेगी। साथ ही उनका कहना है जहां एक ओर महंगाई , सड़क , शिक्षा , चिकित्सा और रोजगार के मुद्दे राज्य में प्रमुख है ,ऐसी स्थिति में मंत्रियों की आमदनी में इजाफा कही न कहीं सरकार का भंडाफोड़ करती है साथ ही भ्रष्टाचार संबंधित कई सवाल भी उठते हैं। जरूरत पड़ी तो वे मीडिया के माध्यम से जनता के बीच सच ले आएंगे । आम आदमी पार्टी इस विषय मुद्दों को लेकर गंभीर है , ऐसे मुद्दे जिसका सरोकार आम जनता से है उन्हे जनता के बीच में ले जायेगी और सरकार की कलई खोलेगी।

Related posts

उद्योगनगरी में मोदी जी के स्वागत में तैयार वापी की जनता। 

cradmin

179- वलसाड विधानसभा क्षेत्र के बूथ स्तर के अधिकारियों को चुनाव संबंधी कार्यों का प्रशिक्षण दिया गया। 

cradmin

वलसाड जिला निर्वाचक प्रेक्षक की अध्यक्षता में निर्वाचक नामावली संक्षिप्त सुधार कार्यक्रम की समीक्षा बैठक की गई. 

cradmin

Leave a Comment