16.6 C
New York
Saturday, May 18, 2024
Star Media News
Breaking News
International News

सायरस मिस्त्री की कार दुर्घटना की जांच जर्मनी में होगी. रिकार्ड चिप खोलेगी हादसे का राज. एक सप्ताह में आयेगी रिपोर्ट.

टाटा संस के पूर्व चेयरमैन स्वर्गीय सायरस मिस्त्री

सायरस मिस्त्री की कार दुर्घटना की जांच जर्मनी में होगी. रिकार्ड चिप खोलेगी हादसे का राज. एक सप्ताह में आयेगी रिपोर्ट.

टाटा संस के पूर्व चेयरमैन व उद्योगपति साइरस मिस्त्री जिस कार में बैठे थे और कार के डिवाइडर से टकराने के बाद उनकी मौत हो गई थी. अब इस दुर्घटनाग्रस्त हुई कार से एक डेटा चिप जर्मन लग्जरी कार निर्माता कंपनी मर्सिडीज बेंज ने लिया है. इस चिप की मदद से दुर्घटना की परिस्थितियों की स्पष्ट तस्वीर सामने आने में मदद मिलेगी. पालघर जिले के पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल ने कहा कि यह चिप, हर समय वाहन के बारे में सभी डेटा रिकार्ड करती है. इसको जांच के लिए जर्मनी ले जाया जायेगा. पालघर एसपी ने कहा कि हम सप्ताह के अंत तक इसकी रिपोर्ट आने की उम्मीद कर रहे हैं.
आपको बता दें कि मर्सिडीज बेंज के पुणे कार्यालय से 6 सदस्यीय टीम ने सोमवार को क्षतिग्रस्त वाहन और दुर्घटना स्थल का अच्छी तरह से निरीक्षण किया. क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) के विशेषज्ञों की एक टीम और कालीना फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला की एक टीम द्वारा भी वाहन और मौके की पहले से ही जांच की जा चुकी है और उनकी रिपोर्ट का भी इंतजार है.
कार के एयरबैग को लेकर उठे हैं सवाल
पालघर पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल
वहीं पालघर के एसपी बालासाहेब पाटिल ने कहा कि चिप के आधार पर जांचकर्ताओं को मर्सिडीज बेंच से जिस रिपोर्ट की उम्मीद है, वह व्यापक होगी. उन्होंने कहा कि मर्सिडीज बेंच के अधिकारियों ने हमें बताया कि इस तरह के विश्लेषण के लिए उनके पास डिफाल्ट पैरामीटर है जो हमारे सभी सवालों के जवाब देंगे. एसपी ने कहा कि जांच के दायरे को केवल कुछ सवालों तक सीमित करने के बजाय उनकी रिपोर्ट के इंतजार करने का निर्णय लिया गया है. पालघर एसपी ने कहा कि जांच में टायर का दबाव, गति, कोई खराबी, स्टेयरिंग, व्हील की स्थिति और एयरबैग के कामकाज जैसे पहलू शामिल हैं. एसपी ने कहा कि पुलिस एयरबैग को लेकर विशेष ध्यान दे रही है, क्योंकि उनका मानना है कि दुर्घटना के समय एसयूवी में 7 में से केवल 3 एयरबैग खुले थे. पाटिल ने कहा कि हमारी जांच के अनुसार सामने दो एयरबैग पूरी तरह फूले हुए थे. उन्होंने कहा कि आगे की सीटों के पीछे वाले एयरबैग, जो दोनों मृतकों की रक्षा कर सकते थे, जो नहीं खुले. बस पुलिस यही पता लगाना चाहती है कि ऐसा क्यों था ?

Related posts

जैन वर्ल्ड पीस सेंटर में डॉ मंजू लोढ़ा ने दिया व्याख्यान।

cradmin

चन्द्र यान ने भेजी चन्द्र की करीब से तस्वीरे, अब चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग का इंतजार 

starmedia news

चीन का नया शिगूफा , घटते जन्मदर की समस्या से निबटने के लिए आईवीएफ व्यवस्था कानूनी तौर पर लागू करने की हो रही तैयारी

starmedia news

Leave a Comment